शनिवार, 13 मार्च 2010

दंगों का गुजरात के करिये पहले जिक्र

दंगों का गुजरात के करिये पहले जिक्र
परधानी की बाद में करें गडकरी फिक्र
करें गडकरी फिक्र, संवारें बेशक गोदी
भारत में मकबूल नहीं हैं लेकिन मोदी
दिव्यदृष्टि भगवा दल देखे दामन अपना
तोड़े उसके बाद आडवाणी का सपना

कोई टिप्पणी नहीं:

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव