गुरुवार, 19 जून 2008

मनमोहन जैसी हालत जब पल में हुई हमारी

पांच बरस की नन्हीं नातिन बोली मुझसे नाना
मुझे नाक में दम का मतलब आप जरा समझाना
बाल सुलभ निष्कपट भाव से नातिन जो कुछ बोली
मर्म समझ कर उसका मानो लगी हृदय में गोली
पास बुला कर उसको मैंने सिर पर हाथ फिराया
फिर पूछा उसके मन में ये प्रश्न कहां से आया
पलक झपकते ही पल में उसने उगली सच्चाई
बोली बुढ़िया नानी रटती बार-बार महंगाई
आम आदमी के जिसने कर दिया नाक में दम है
ऊपर से रोजी-रोटी का अवसर होता कम है
सुनकर उसका भाव ताव मेरे मन में भी आया
फिर भी अपनी मजबूरी को देख बहुत पछताया
मनमोहन जैसी हालत जब पल में हुई हमारी
स्वयं नाक में दम का मतलब समझ गई बेचारी

सोच समझ कर करें वही अंपायर फायर

असर लेखनी का पड़ा नियम हुए तब्दील
क्रिकेट खिलाड़ी कर रहे बढ़िया इसको फील
बढ़िया इसको फील उठे यदि नाहक ऊंगली
प्लेयर करे अपील उसी दम फेंके गुगली
दिव्यदृष्टि बनते जो अब तक जनरल डायर
सोच समझ कर करें वही अंपायर फायर

रुक पाए डडवाल भला क्या चोरी डाका

थामी दिल्ली पुलिस की जबसे आप कमान
तब से लेकर आज तक रोज बढ़ रही शान
रोज बढ़ रही शान जान लोगों की जाए
मगर बहादुर पुलिस नहीं कुछ भी कर पाए
दिव्यदृष्टि फहरे रिश्वत की कीर्ति पताका
रुक पाए डडवाल भला क्या चोरी डाका

भागो-भागो खूब मचा ढाका में हल्ला

पहले पाकिस्तान को पीट बढ़ाई पीर
फिर बंगाली देश का हाल किया गंभीर
हाल किया गंभीर बनाई सूरत रोनी
काबू में आ गई हिंद के सहज तिकोनी
दिव्यदृष्टि चमका गौतम वीरू का बल्ला
भागो-भागो खूब मचा ढाका में हल्ला

बुंदेला माटी मगर भीतर से जरखेज

बाहर से बंजर भले पड़े दिखाई तेज
बुंदेला माटी मगर भीतर से जरखेज
भीतरसेजरखेजबताते लोग सयाने
सोनभद्र में मिला प्लैटिनम दुनिया जाने
दिव्यदृष्टि निकलेगा जिस दिन काला सोना
होगा मालामाल देश का कोना-कोना

मंगलवार, 10 जून 2008

उसे जेल दिखलाएं फौरन माया रानी

पहले इस्तीफा लिया फिर करवाया कैद
बसपा का शासन बहुत दीख रहा मुस्तैद
दीख रहा मुस्तैद, कारगर कदम उठाए
मंत्री को भी हवालात की हवा खिलाए
दिव्यदृष्टि अपराधी हो कितना भी मानी
उसे जेल दिखलाएं फौरन माया रानी

सोमवार, 9 जून 2008

बोले चक दे इंडिया ॐ शांति का पाठ

चंदन बिग - बी ने घिसा बैंकॉक के घाट
बोले चक दे इंडिया ॐ शांति का पाठ
ॐ शांति का पाठ , आइफा में करवाया
किंतु शाह का माथा उनको नजर न आया
दिव्यदृष्टि इसलिए न कर पाए अभिनंदन
बैंकॉक के घाट घिसा बिग - बी ने चंदन

शेयर गिरे धड़ाम, हजारों लाखों डूबे

मचा मुम्बई में गजब वर्षा से कोहराम
दलदल बना दलाल पथ शेयर गिरे धड़ाम
शेयर गिरे धड़ाम , हजारों लाखों डूबे
नहीं हो सके सफल अमीरी के मंसूबे
दिव्यदृष्टि जिनकी पानी में बही कमाई
उनके घर में गूंजे मातम की शहनाई

शनिवार, 7 जून 2008

बढ़ता कारोबार बाप-माई के डर से

दिव्यदृष्टि होता अगर मंत्री की औलाद
शोहरत पाता रातदिन दुनिया देती दाद
दुनिया देती दाद , दरिद्दर जाता घर से
बढ़ता कारोबार बाप-माई के डर से
खूब मजे से सुनता राग-रागिनी धीमा
दौड़े आते लोग कराने जीवन बीमा

शुक्रवार, 6 जून 2008

धुआंधार रन मारे खूब पठानी बल्ला

आईपीएल से बढ़ा है यूसुफ का मोल
दिया मोतियों से उन्हें रजवाड़ों ने तोल
रजवाड़ों ने तोल, करोड़ी बंगला पाए
झूम रहे इरफान बंधु को गले लगाए
दिव्यदृष्टि उम्मीद यही है इंशा-अल्ला
धुआंधार रन मारे खूब पठानी बल्ला

गुरुवार, 5 जून 2008

मनमोहन जी आप नहीं टीवी पर रोएं

टीवी पर रोएं नहीं मनमोहन जी आप
नीति कारगर लाइए फौरन माई-बाप
फौरन माई-बाप, घटे खर्चा सरकारी
हो पाएगी सुलभ तभी सस्ती तरकारी
ऐय्याशी का बोझ नहीं आगे अब ढोएं
मनमोहन जी आप नहीं टीवी पर रोएं
मुमकिन हो तो मानिए मन्नू मेरी बात
कर चोरों को मारिए फौरन भारी लात
फौरन भारी लात, जेल के अंदर डालें
काला पैसा जहां वहीं से उसे निकालें
दिव्यदृष्टि का देश बटोरे दौलत खोई
चूल्हा चहके नित्य रहे खुशहाल रसोई

बुधवार, 4 जून 2008

धीरज धारण कीजिए भाई राम गरीब

धीरज धारण कीजिए भाई राम गरीब
आम आदमी के बहुत है सरकार करीब
है सरकार करीब, तभी तो उसे पता है
बाकी कितना माल जेब में और बचा है
करें देवड़ा दिव्यदृष्टि जब तक निस्तारण
भाई राम गरीब कीजिए धीरज धारण।

मंगलवार, 3 जून 2008

लालूजी अब नेट पर बनवाएंगे ब्लॉग

लालूजी अब ' नेट ' पर बनवाएंगे ब्लॉग
सुनें यात्री रेल के सुखद सियासी राग
सुखद सियासी राग साग राबड़ी बनाएं
कर उसको उदरस्थ मुसाफिर चैता गाएं
दिव्यदृष्टि जो भी लाइन से जरा हिलेगा
नहीं उसी की खैर दंड तत्काल मिलेगा

सोमवार, 2 जून 2008

अपना भारत देश है सचमुच बहुत महान

अपना भारत देश है सचमुच बहुत महान
आए दिन जाती यहां निर्दोषों की जान
निर्दोषों की जान , शान से घूमें कातिल
भ्रष्ट , उठाईगीर करें नित इज्जत हासिल
दिव्यदृष्टि फिर तू भेजे क्यों उनको लानत
सचमुच बहुत महान देश है अपना भारत

रविवार, 1 जून 2008

धोनी को धक्का लगा जीता राजस्थान

देसी पर भारी पड़ा परदेसी कप्तान
धोनी को धक्का लगा जीता राजस्थान
जीता राजस्थान शेन की शान निराली
रचा नया इतिहास कथा नूतन लिख डाली
' दिव्यदृष्टि ' चहुंओर विजय के बजे नगाड़े
सुपर शेर को बना दिए बकरी रजवाड़े

डेढ़ महीन तक चला जमकर बल्ला-बॉल
ट्वंटी-20 में हुई कायम कई मिसाल
कायम कई मिसाल, दिखे नित नए नजारे
रुदन किए श्रीशांत, हरभजन थप्पड़ मारे
' दिव्यदृष्टि ' दीवार ढही, हकलाए दादा
सचिन हुए मायूस, पिटा पंजाबी प्यादा

सुपरकिंग को फूल लगे जिंटा को कांटे

धोनी ने युवराज को खूब चटाई धूल
मिला मुबारकबाद का सुपरकिंग को फूल
सुपरकिंग को फूल लगे जिंटा को कांटे
किंग इलेवन पिटे पड़े गालों पर चांटे
दिव्यदृष्टि सब जोश हो गया पल में ठंडा
नहीं खड़कता दिखा कहीं पंजाबी खंडा

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव