मंगलवार, 10 जून 2008

उसे जेल दिखलाएं फौरन माया रानी

पहले इस्तीफा लिया फिर करवाया कैद
बसपा का शासन बहुत दीख रहा मुस्तैद
दीख रहा मुस्तैद, कारगर कदम उठाए
मंत्री को भी हवालात की हवा खिलाए
दिव्यदृष्टि अपराधी हो कितना भी मानी
उसे जेल दिखलाएं फौरन माया रानी

कोई टिप्पणी नहीं:

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव