शुक्रवार, 13 नवंबर 2009

नहीं गुण्डई से कभी बनते लोग महान

नहीं गुण्डई से कभी बनते लोग महान
यह सच्चाई दोस्तो जाने सकल जहान
जाने सकल जहान, सुनें नेता मुंबइया
मानुष सभी समान मराठी चाहे भइया
दिव्यदृष्टि इसलिए छोडि़ए ओछा नारा
सचिन सरीखा बनें नेक नैनों का तारा

2 टिप्‍पणियां:

इष्ट देव सांकृत्यायन ने कहा…

aajkal to log gundai se hi mahan ban rahe hain.....

आशीष कुमार 'अंशु' ने कहा…

Behatareen ........
जाने सकल जहान, सुनें नेता मुंबइया
मानुष सभी समान मराठी चाहे भइया

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव