रविवार, 10 जनवरी 2010

कर्नाटक में बन गए इसीलिए वे दूब

देते गंदी गालियां गौड़ा जमकर खूब
कर्नाटक में बन गए इसीलिए वे दूब
इसीलिए वे दूब, कह रहे येदियुरप्पा
थू-थू होती रोज निरंतर चप्पा-चप्पा
दिव्यदृष्टि चौथेपन में भी जरा न चेते
गौड़ा जमकर खूब गालियां गंदी देते।।

कोई टिप्पणी नहीं:

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव