शुक्रवार, 29 मई 2009

नस्लभेद के हो रहे स्टूडेंट शिकार

नस्लभेद के हो रहे स्टूडेंट शिकार
जारी है परदेस में उन पर अत्याचार
उन पर अत्याचार, मार खाते बेचारे
धरे हाथ पर हाथ मगर बैठे हरकारे
दिव्यदृष्टि मनमोहन रोकें दुष्ट दुधारी
छात्र-छात्रा करें फजीहत वरना भारी

2 टिप्‍पणियां:

निरन्तर- महेन्द्र मिश्र ने कहा…

यह समस्या कोई नई नहीं है इसका प्रबल विरोध किया जाना चाहिए. achchi rachana . abhaar.

Nirmla Kapila ने कहा…

सटीक रचना बधाई

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव