सोमवार, 3 अगस्त 2009

राखी ने चुन ही लिया दूल्हा आखिरकार

राखी ने चुन ही लिया दूल्हा आखिरकार
हुआ 'स्वयंवर' पूर्ण पर शादी से इनकार
शादी से इनकार, मगर 'डेटिंग' पर जाएं
जांच-परखकर ही विवाह का मूड बनाएं
दिव्यदृष्टि जब 'पूर्ण तसल्ली' होगी भाई
तभी बजेगी उनके घर-आंगन शहनाई

कोई टिप्पणी नहीं:

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव