गुरुवार, 26 मार्च 2009

किसी गधे को तुझे पड़ेगा बाप बनाना

वयोवृद्ध नेता नहीं छोड़ें जब तक सीट
तब तक हाउस में युवा पहुंचें कैसे मीत
पहुंचें कैसे मीत, विरासत हैं जो पाए
वही विधायक बने कहीं एमपी कहलाए
दिव्यदृष्टि यदि चाहे तू संसद में जाना
किसी गधे को तुझे पड़ेगा बाप बनाना

2 टिप्‍पणियां:

इष्ट देव सांकृत्यायन ने कहा…

गधा काम करके खाता है सर और संसद से वह दूर ही रहता है. कृपया उसे बदनाम न करें.

बवाल ने कहा…

हा हा ।
हमारे लिए बाप बनना आसान हो जाएगा फिर, आख़िर हम गधे जो ठहरे ।

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव