रविवार, 21 सितंबर 2008

सारा दिन बदले मगर गृहमंत्री पोशाक

घूम घूमकर जंगजू करते सीना चाक
सारा दिन बदले मगर गृहमंत्री पोशाक
गृहमंत्री पोशाक धाक उनकी है आला
नाहक समझें लोग उन्हें घर का रखवाला
दिव्यदृष्टि जिसके हो ऐसे शौक नवाबी
खाक उठाए सख्त कदम वो शख्स जवाबी

कोई टिप्पणी नहीं:

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव