शनिवार, 19 सितंबर 2009

बेदी पर कर्तव्य की देकर अपने प्राण

बेदी पर कर्तव्य की देकर अपने प्राण
शर्मा मोहन चंद ने उत्तम दिया प्रमाण
उत्तम दिया प्रमाण त्राण पुरवासी पाए
बनी निरापद रात दिवस आनंद समाए
दिव्यदृष्टि है धन्य शहादत मित्र तुम्हारी
वीरोचित श्रद्धांजलि लीजे अत: हमारी

2 टिप्‍पणियां:

Nirmla Kapila ने कहा…

bहमेशा की तरह लाजवाब शुभकामनायें

SP Dubey ने कहा…

अचछा लिखते है पढ कर अछा लगता है

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव