शुक्रवार, 23 अक्तूबर 2009

चौटाला चलने लगे चतुर सियासी चाल

भूपिंदर का परख कर हरियाणा में हाल
चौटाला चलने लगे चतुर सियासी चाल
चतुर सियासी चाल दीखती बेशक टेढ़ी
राज्यपाल की किंतु चूम आये वे ड्योढ़ी
दिव्यदृष्टि पड़ सकता है भारी यह पट्ठा
बिखर न जाये मित्र कहीं हुड्डा का मट्ठा

कोई टिप्पणी नहीं:

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव