बुधवार, 1 अप्रैल 2009

कर लेंगे उनसे अडवानी सौदेबाजी

सुषमा बोलीं भाजपा पाये नहीं स्वराज
एनडीए की पहुंच से दूर रहेगा ताज
दूर रहेगा ताज, जरा आएं सीटें कम
फिर भी नहीं मलाल न हमको है कोई गम
दिव्यदृष्टि जीतेंगे जो छुटभैये काजी
कर लेंगे उनसे अडवानी सौदेबाजी

कोई टिप्पणी नहीं:

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव