रविवार, 5 अप्रैल 2009

तुमने वह टकसाल कहां लगवाई भैया

पांच साल में दस गुना बढ़ी आपकी आय
पब्लिक को बतलाइए राहुल वही उपाय
राहुल वही उपाय, समर्थक भी तो जानें
कहां करें इनवेस्ट कौन सी खोदें खानें
दिव्यदृष्टि दिन-रात जहां से झरे रुपैया
तुमने वह टकसाल कहां लगवाई भैया

कोई टिप्पणी नहीं:

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव