गुरुवार, 2 अप्रैल 2009

बाहुबली की नाक में डाले कौन नकेल

बद से बदतर हो रहा राजनीति का खेल
बाहुबली की नाक में डाले कौन नकेल
डाले कौन नकेल, निडर फिरते हत्यारे
हैं नख-दंत विहीन जांचकर्मी बेचारे
'दिव्यदृष्टि' जिसने दंगे में की अगुआई
उसे क्लीन चिट सौंप रही है सीबीआई

कोई टिप्पणी नहीं:

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव