गुरुवार, 9 अप्रैल 2009

असर दीखता साफ हुए टाइटलर टाइट

गृह मंत्री जरनैल को भले कर दिए माफ
जूतेबाजी का मगर असर दीखता साफ
असर दीखता साफ हुए टाइटलर टाइट
टिकट हाथ से गया मनाते गम डे-नाइट
दिव्यदृष्टि अब पूछ रहे पीड़ित नर-नारी
सज्जन पर कब कांग्रेस की चले कटारी

2 टिप्‍पणियां:

परमजीत बाली ने कहा…

बहुत बढिया!!

संगीता पुरी ने कहा…

बहुत सुंदर रचना ...

यह मैं हूं

यह मैं हूं

ब्लॉग आर्काइव